Monthly Archives: July 2016

ख्वाब

बड़े बेआबरू से हैं ये ख्वाब… ना ठीक से आते हैं, ना कभी पूरा हुआ करते हैं… बिल्कुल तुझ पर गये हैं ये शायद… ना जान लेते हैं, ना जीने देते हैं… तकलीफ़ ये जो बयान करके दिल की, कर दिया कुसूर… जिस राह भी गुज़रते हैं, सब दवा देते...

spacer